Hindi Shayari Collection


Shayari | Hindi Shayari | Hindi Shayari Collection | Best Hindi Shayari Colletion | Free Hindi Shayari Collection | Huge Shayari Collection In Hindi

1. लम्हे जुदाई के बेकरार रखते हैं,
हालात मेरे मुझे लाचार रखते हैं,
आँखे मेरी पढ़ ले वो कभी,
हम खुद कैसे कहें उनसे कितना प्यार करते हैं |

2. सूरज से कहो रौशनी देना छोड़ दे,
सितारों से कहो टिमटिमाना छोड़ दें,
अगर तुम नहीं आ सकते हो तो,
अपनी यादों से कह दो की हमें सताना छोड़ दें |

3. टूट जाते हैं बिखर जाते हैं,
कांच के घर हैं मुकद्दर अपने,
अजनबी तो हमेशा प्यार से मिलते हैं,
भूल जाते हैं तो अक्सर अपने |

4. उनको रब से इतनी बार माँगा है,
की अब हम सिर्फ हाथ उठाते हैं,
और सवाल फ़रिश्ते खुद लेख लेते हैं |

5. दिल के दर्द को तोड़ने वाले क्या जाने,
प्यार की रस्मों को ये ज़माने वाले क्या जाने,
होती है कितनी तक़लीफ़ कब्र के नीचे,
ये उस पर फूल चढाने वाले क्या जाने |

6. एक अजनबी से मुझे इतना प्यार क्यों है,
इनकार करने पर चाहत का इकरार क्यों है,
उसे पाना नहीं मेरी तकदीर में शायद,
फिर हर मोड़ पे उसका इंतज़ार क्यों है |

7. तेरी जुदाई भी हमें प्यार करती है,
तेरी याद बहुत बेकरार करती है,
वो दिन जो तेरे साथ गुज़ारे थे,
तलाश उनको नज़र बार बार करती है |

8. इश्क के सहारे जिया नहीं करते,
गम के प्यालों को पीया नहीं करते,
कुछ ऐसे दोस्त हैं हमारे,
जिनको परेशान ना करो तो,
वो याद किया नहीं करते |

Tags : Shayari, Hindi Shayari, Hindi Shayari Collection, Best Hindi Shayari Colletion, Free Hindi Shayari Collection, Huge Shayari Collection In Hindi

1 comment:

Powered by Blogger.